Thursday, October 21, 2021

आरएसएस ने कहा- प्रणब को न्योता देने से संघ में शामिल होने वालों के आवेदन तीन गुना तक बढ़ गए

Must Read

लखनऊ ट्रैफिक कर्मियों ने भारी मात्रा में पकड़ी अवैद्ध शराब गाड़ी छोड़कर चालक फरार

लखनऊ ब्रेकिंग ट्रैफिक कर्मियों ने भारी मात्रा में अवैद्ध शराब पकड़ी चिनहट तिराहे पर चेकिंग के दौरान शक होने पर...

मंत्री नन्दी और महापौर ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को सौंपी आवास की चाभी

लोगों के आशियाने के सपने को पूरा कर रही मोदी और योगी सरकार: नन्दी मंत्री नन्दी और महापौर ने प्रधानमंत्री...

सृष्टि अपार्टमेंट्स में स्वतंत्रता दिवस पर हुआ ध्वजारोहण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम

सृष्टि अपार्टमेंट में बड़े उत्साह से मनाया गया राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त। आज सृष्टि अपार्टमेंट वासियों द्वारा ध्वजारोहण के उपरांत...

क्या योगी आदित्य नाथ उत्तर प्रदेश के चीफ मिनिस्टर दोबारा बनने चाहिए?

 

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दीक्षांत समारोह में 7 जून को शामिल हुए थे। ये कार्यक्रम नागपुर में हुआ था। संघ ने सोमवार को दावा किया कि प्रणब को न्योता देने और उनके कार्यक्रम में शामिल होने के बाद से ही आरएसएस में शामिल होने के लिए आवेदनों की संख्या तीन गुना तक बढ़ गई है। इनमें से 40 फीसदी आवेदन तो सिर्फ प्रणब के गृह राज्य पश्चिम बंगाल से ही आए हैं।

आरएसएस के वरिष्ठ नेता बिप्लब रॉय ने बताया, ‘1 से 6 जून तक आरएसएस की वेबसाइट पर ज्वाइन करने के लिए औसतन रोज 378 आवेदन आए। 7 जून को प्रणब के भाषण के दिन 1,779 आवेदन आए। इसके बाद रोज 1200-1300 आवेदन आ रहे हैं।’ रॉय ने बताया कि इनमें से 40 फीसदी आवेदन पश्चिम बंगाल से होते हैं।

क्या प्रणब के आने से संघ की लोकप्रियता बढ़ी है? इसके जवाब में बिप्लब रॉय ने कहा, ‘इस आकलन पर पहुंचना गलत होगा। अपनी गतिविधियों की वजह से संघ पहले ही लोकप्रिय है।’ प्रणब मुखर्जी के संघ मुख्यालय में बतौर अतिथि जाने को लेकर काफी राजनीतिक गहमागहमी रही थी।

प्रणब ने अपने भाषण में संघ का नाम नहीं लिया: प्रणब मुखर्जी ने संघ के मंच से राष्ट्रीयता, राष्ट्रवाद और देशभक्ति पर अपनी बात रखी थी। करीब 30 मिनट के भाषण के दौरान उन्होंने महात्मा गांधी, जवाहर लाल नेहरू, लोकमान्य तिलक, सुरेंद्र नाथ बैनर्जी और सरदार पटेल का जिक्र किया था। लेकिन संघ के किसी नेता का नाम नहीं लिया था और न संघ के बारे में कोई बात कही थी।

बेटी ने प्रणब को दी थी न जाने की सलाह:बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा था- “आरएसएस भी नहीं मानता है कि आप भाषण में उसकी सोच का बखान करेंगे, लेकिन बातें भुला दी जाएंगी। रहेंगे तो सिर्फ फोटो, जो फर्जी बयानों के साथ प्रसारित किए जाएंगे। नागपुर जाकर आप भाजपा-आरएसएस को फर्जी खबरें प्लांट करने, अफवाहें फैलाने का पूरा मौका दे रहे हैं।” उधर, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम, जयराम रमेश, सीके जाफर शरीफ समेत 30 से ज्यादा कांग्रेस नेताओं ने प्रणब से संघ कार्यक्रम में नहीं जाने की अपील की थी।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

लखनऊ ट्रैफिक कर्मियों ने भारी मात्रा में पकड़ी अवैद्ध शराब गाड़ी छोड़कर चालक फरार

लखनऊ ब्रेकिंग ट्रैफिक कर्मियों ने भारी मात्रा में अवैद्ध शराब पकड़ी चिनहट तिराहे पर चेकिंग के दौरान शक होने पर...

मंत्री नन्दी और महापौर ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को सौंपी आवास की चाभी

लोगों के आशियाने के सपने को पूरा कर रही मोदी और योगी सरकार: नन्दी मंत्री नन्दी और महापौर ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को...

सृष्टि अपार्टमेंट्स में स्वतंत्रता दिवस पर हुआ ध्वजारोहण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम

सृष्टि अपार्टमेंट में बड़े उत्साह से मनाया गया राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त। आज सृष्टि अपार्टमेंट वासियों द्वारा ध्वजारोहण के उपरांत सास्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन सोसायटी...

भीटी ब्लाक गाव के एक ही परिवार के 4 सदस्यों को दिया गया आवास—

अम्बेडकरनगर भीटी ब्लाक गाव के एक ही परिवार के 4 सदस्यों को दिया गया आवास--- रिपोर्ट अमित सिंह अम्बेडकरनगर खंड विकास अधिकारी से शिकायत के बावजूद भी ग्राम...

सिटीजन चार्टर के संबंध में ग्राम पंचायत चककोड़ार मे बैठक

  रिपोर्ट _अमित सिंह अम्बेडकरनगर  बृहस्पतिवार को ग्राम पंचायत चककोड़ार मे सिटीजन चार्टर के संबंध में बैठक की गई जिनमे ग्राम पंचायत के लोगों को सिटीजन...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -