Thursday, May 13, 2021

लखनऊ ATS एएसपी राजेश साहनी ने की खुद को गोली मार की खुदकुशी

Must Read

विधायक डॉ नीरज बोरा ने 9 ट्रैक्टर टैंकर सेनेटाइजेसन के लिए किया रवाना

क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में जुटे भाजपा विधायक डा0 नीरज बोरा लखनऊ, 7 मई। भाजपा विधायक डॉक्टर नीरज बोरा...

घर घर होगा सेनेटाइजेसन मिलेगी मेडिसिन किट- विधायक नीरज बोरा ने की सराहनीय पहल

विधायक नीरज बोरा ने पाजिटिव तक पहुचाया कोरोना दवा किट-साथ ही सेनेटाइजेसन के लिए कसी लखनऊ, 2 मई। उत्तर प्रदेश...

CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी

-CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी रेमेडेसिवर आदि दवाओं की कालाबाज़ारी करने वालों पर गैंगस्टर, NSA लगाया...

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश एटीएस के अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक और तेज तर्रार अधिकारी राजेश साहनी ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। उनकी खुदकुशी की खबर सुनकर पूरा महकमा सकते में। सूचना मिलते ही आला अधिकारी एटीएस मुख्यालय पहुंचे। जानकारी के अनुसार साहनी ने खुद को एटीएस मुख्यालय स्थित अपने दफ्तर में गोली मारी है।

एटीएस के आईजी अमिताभ यश ने साहनी के गोली मारने की पुष्टि भी की है।
जानकारी के अनुसार मुख्यालय में गोली चलने की आवाज सुनकर कर्मचारी मौके पर दौड़े। मौके पर पहुंचे तो वहां उन्होंने खून से लथपथ साहनी को तड़पते देख फौरन अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी मौत हो गई। फिलहाल आत्महत्या करने के कारणों का पता नहीं चल पाया है।
राजेश साहनी एटीएस मुख्यालय,गोमतीनगर में थे। उन्होंने अपने ड्राइवर से अपनी सरकारी पिस्टल मंगाई। इसके कुछ देर बाद उन्होंने गोली मारकर खुदकुशी कर ली। मौके से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हो पाया है।

 

पुलिस ने घटना में प्रयुक्त सरकारी पिस्टल कब्जे में ले ली है और मामले की जांच शुरू कर दी है। 1992 बैच के पीपीएस सेवा में चुने गए राजेश साहनी 2013 में अपर पुलिस अधीक्षक बने थे। वह मूलतः बिहार के पटना के रहने वाले थे। 1969 में जन्मे राजेश साहनी ने एमए राजनीति शास्त्र से किया था।
राजेश साहनी ने बीते सप्ताह आईएसआई एजेंट की गिरफ्तारी समेत कई बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया था। उत्तर प्रदेश पुलिस के काबिल अधिकारियों राजेश साहनी की गिनती होती है। बीते सप्ताह आईएसआई एजेंट की गिरफ्तारी समेत कई बड़े ऑपरेशन को राजेश साहनी ने अजाम दिया था।

राजेश साहनी 1992 में पीपीएस सेवा में आए थे।

2013 में वह अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर प्रमोट हुए थे। एटीएस में रहते हुए राजेश साहनी ने कई ऑपरेशन को सफल किया था। अभी पिछले हफ्ते ही एटीएस की टीम को राजेश साहनी के नेतृत्व में बड़ी सफलता उत्तराखंड में हाथ लगी थी। एटीएस टीम ने यहां मिलिट्री इंटेलिजेंस और उत्तराखंड पुलिस के साथ मिलकर संदिग्ध आईएसआई एजेंट रमेश सिंह को गिरफ्तार किया था।
इसके बाद राजेश साहनी ने रमेश सिंह को कोर्ट में पेश​ किया था और उसे ट्रांजिट रिमांड पर यूपी लाए थे। राजेश काफी समय से तमाम आतंकी संगठनों के स्लीपर मॉड्यूल और भारत में आतंक की साजिशों को बेनकाब कर रहे थे। उत्तराखंड आपरेशन में राजेश साहनी के साथ उनकी टीम में इंस्पेक्टर मंजीत सिंह, एसआई शैलेंद्र गिरी, कंप्यूटर आपरेटर वकील अहमद, कांस्टेबल हरीश और मनोज शामिल थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

विधायक डॉ नीरज बोरा ने 9 ट्रैक्टर टैंकर सेनेटाइजेसन के लिए किया रवाना

क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में जुटे भाजपा विधायक डा0 नीरज बोरा लखनऊ, 7 मई। भाजपा विधायक डॉक्टर नीरज बोरा...

घर घर होगा सेनेटाइजेसन मिलेगी मेडिसिन किट- विधायक नीरज बोरा ने की सराहनीय पहल

विधायक नीरज बोरा ने पाजिटिव तक पहुचाया कोरोना दवा किट-साथ ही सेनेटाइजेसन के लिए कसी लखनऊ, 2 मई। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की...

CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी

-CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी रेमेडेसिवर आदि दवाओं की कालाबाज़ारी करने वालों पर गैंगस्टर, NSA लगाया जाये-CM रेमेडेसिवर सहित अन्य दवाओं की...

चुनाव ड्यूटी में जवानों से भरी बस खाई में उतरी-सभी सुरक्षित

लखनऊ त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव ड्यूटी में जा रही पुलिस जवानों से भरी बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गयी बस में बैठे जवानों को आई मामूली...

विधायक नीरज बोरा ने कोरोना काल मे उपचार हेतु दी 1 करोड़ रुपये की निधि

विधायक नीरज बोरा ने आपदा काल मे उपचार हेतु दी 1 करोड़ रुपये की निधि आपदा काल मे एक और लोकप्रिय विधायक डॉ नीरज बोरा...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -