Friday, March 5, 2021

राजनाथ सिंह SCO बैठक में शामिल होने के लिए रूस रवाना, सैन्य सहयोग बढ़ाने को लेकर होगी वार्ता

Must Read

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख...

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की एक बैठक में हिस्सा लेने के लिए बुधवार को रूस रवाना हो गए। यह बैठक ऐसे समय हो रही है जब संगठन के दो प्रमुख सदस्य भारत और चीन के बीच सीमा पर गतिरोध है। अधिकारियों ने बताया कि चार सितम्बर को होने वाली एससीओ के रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के अलावा सिंह अपने रूसी समकक्ष सर्गेई शोइगू और कई अन्य शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ द्विपक्षीय सैन्य सहयोग बढ़ाने को लेकर बातचीत करेंगे। चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंघे और पाकिस्तानी रक्षा मंत्री परवेज खटक के भी एससीओ की बैठक में हिस्सा लेने की उम्मीद है। रक्षा मंत्री की यह यात्रा रूस में बहुपक्षीय युद्ध अभ्यास में हिस्सा लेने से भारत के पीछे हटने के कुछ दिन बाद हो रही है जिसमें चीनी और पाकिस्तानी सैनिकों के भी हिस्सा लेने की उम्मीद है। एससीओ बैठक के इतर सिंह और वेई के बीच द्विपक्षीय बैठक की संभावना के बारे में पूछे जाने पर सूत्रों ने कहा कि ऐसी कोई योजना नहीं है।

सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘ मॉस्को के लिए रवाना हो रहा हूं। इस दौरे पर, मैं शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के रक्षा मंत्रियों की एक बैठक, सामूहिक सुरक्षा संधि संगठन (सीएसटीओ) की बैठक में हिस्सा लूंगा और द्वितीय विश्व युद्ध में विजय की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में सीआईएस के सदस्यों से मुलाकात करूंगा।’’ उन्होंने कहा कि इस दौरान वह शोइगू के साथ साझा हितों पर चर्चा करेंगे। सिंह ने कहा, ‘‘भारत और रूस एक रणनीतिक साझेदार हैं। मैं इस यात्रा के दौरान इस साझेदारी को और आगे बढ़ाने को उत्साहित हूं।’’

जून के बाद सिंह की यह दूसरी मास्को यात्रा होगी। उन्होंने 24 जून को मास्को में विजय दिवस परेड में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। विजय दिवस परेड का आयोजन द्वितीय विश्वयुद्ध में नाजी जर्मनी पर सोवियत विजय की 75 वीं वर्षगांठ पर किया गया था। रूस ने 10 सितंबर को एससीओ विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए विदेश मंत्री एस जयशंकर को भी आमंत्रित किया है। रूसी रक्षा मंत्री शोइगू के साथ अपनी द्विपक्षीय बैठक में सिंह रक्षा अनुबंधों के तहत भारतीय सशस्त्र बलों को विभिन्न हथियारों और कलपूर्जों की जल्द आपूर्ति के लिए दबाव डालेंगे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा नहीं बल्कि सेवा और समर्पण...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख को हो रहा आयोजन - तीन...

लखनऊ में यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ

  *यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ* आज दिनांक 15 -02-2021 से सदर कैंट स्थित यातायात पुलिस लाइन मैं यातायात व्यवस्था...

अंडरगारमेंट्स में छुपा कर ला रहे यात्री से 1 करोड़ के ऊपर का सोना पकड़ा गया-लखनऊ एयरपोर्ट का मामला

लखनऊ एयरपोर्ट पर कस्टम को बड़ी सफलता मिली है। दुबई से लखनऊ पहुंचे चार यात्रियों के पास 3 किलो ग्राम सोना मिला है। विमान...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -