Thursday, August 5, 2021

आईएसआई को खुफिया जानकारी देने के आरोप में कैप्टन अरुण मारवाह गिरफ्तार

Must Read

लखनऊ-ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण

ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण- विवेक शर्मा-स्टार न्यूज़ भारत लखनऊ - कोरोना महामारी से जहां एक...

लखनऊ- बी के टी लेसा उप खण्ड कार्यालय पर हुआ कोविड-19 टीकाकरण-399 लोगो को लगा निःशुल्क टीका

कोविड-19  टीकाकरण शिविर उपखण्ड लेसा कार्यालय में सम्पन्न     लखनऊ।कोविड महामारी से निपटने के राज्य में योगी सरकार ने जगह जगह...

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक मिजोरम के पूर्व राज्यपाल समेत अन्य...

पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी आईएसआई को खुफिया जानकारी देने के आरोप में इंडियन एयरफोर्स के एक ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह (51) को अरेस्ट किया गया है। आईएसआई के ‘हसीन’ जाल में फंसकर वायुसेना के अरुण पर गोपनीय जानकारी साझा करने के आरोप में उसे गिरफ्तार किया गया। बताया जा रहा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI ने हनीट्रैप के जरिए ग्रुप कैप्टन से खुफिया जानकारी हासिल की।अरुण फेसबुक के जरिए दो महिलाओं के कॉन्टैक्ट में आया था। बाद में वह डॉक्युमेंट्स की फोटो खींचकर वॉट्सऐप के जरिए इन्फॉर्मेशन भेजने लगा।


आईएसआई की ओर से पहले भी इस तरह कई अधिकारियों और जवानों का फंसाया जा चुका है। सोशल मीडिया पर आईएसआई अपने जाल बिछाती है और फिर पैसे, विदेश घुमाने के लालच कोे एवज में गोपनीय जानकारियां बातों ही बातों में हासिल कर लेती है।ग्रुप कैप्टन पर सरकारी गोपनीयता कानून के तहत केस दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़े :- पीएम मोदी की आज से शुरू फिलीस्तीन, संयुक्त अरब अमीरात और ओमान की यात्रा है महत्वपूर्ण

सूत्रों के मुताबिक वायुसेना मुख्यालय में तैनात रहे ग्रुप कैप्टन को काउंटर इंटेलिजेंस विंग की ओर से करीब 10 दिनों तक की गई पूछताछ के बाद दिल्ली पुलिस को सौंप दिया गया। उसे पांच दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है।उसका फोन में जब्त कर लिया गया है, जिसे फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है।

वायुसेना ने इस मामले में अभी आधिकारिक तौर पर कोई बयान नहीं दिया है। अधिकारी दोषी पाया गया तो उसे सात साल तक की जेल हो सकती है। सेना के लिए सोशल मीडिया पर एक्टिव होने के लिए एक सख्त नियम हैं। इसके तहत सैनिकों को अपनी पहचान, पद, तैनाती और अन्य डिटेल साझा करने पर पाबंदी है। उन्हें वर्दी में अपनी तस्वीर लगाने पर भी पाबंदी है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

लखनऊ-ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण

ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण- विवेक शर्मा-स्टार न्यूज़ भारत लखनऊ - कोरोना महामारी से जहां एक...

लखनऊ- बी के टी लेसा उप खण्ड कार्यालय पर हुआ कोविड-19 टीकाकरण-399 लोगो को लगा निःशुल्क टीका

कोविड-19  टीकाकरण शिविर उपखण्ड लेसा कार्यालय में सम्पन्न     लखनऊ।कोविड महामारी से निपटने के राज्य में योगी सरकार ने जगह जगह वैक्सिनेसन का कार्य सुचारू रूप...

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक मिजोरम के पूर्व राज्यपाल समेत अन्य विशेष अतिथियों का मंत्री नन्दी...

लखनऊ- कुर्सी रोड स्थित सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के डीवी सिंह अध्यक्ष व विवेक शर्मा बने सचिव

लखनऊ- कुर्सी रोड स्थित सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के डीवी सिंह अध्यक्ष व विवेक शर्मा बने सचिव लखनऊ। सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के रविवार...

सपा सांसद आज़म खान व बेटे अब्दुल्ला आज़म को आज भेजा जाएगा सीतापुर जेल

लखनऊ सपा सांसद आज़म खान व बेटे अब्दुल्ला आज़म को आज भेजा जाएगा सीतापुर जेल* सीतापुर जेल से मेदान्ता हॉस्पिटल लख़नऊ गाड़ियां रवाना- 9 मई को दोनों...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -