Thursday, August 5, 2021

शुरू हुआ अखलाक बनाम चंदन का मुद्दा, हिंदू संगठनों ने हिंसा को बताया साजिश: कांसगंज

Must Read

लखनऊ-ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण

ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण- विवेक शर्मा-स्टार न्यूज़ भारत लखनऊ - कोरोना महामारी से जहां एक...

लखनऊ- बी के टी लेसा उप खण्ड कार्यालय पर हुआ कोविड-19 टीकाकरण-399 लोगो को लगा निःशुल्क टीका

कोविड-19  टीकाकरण शिविर उपखण्ड लेसा कार्यालय में सम्पन्न     लखनऊ।कोविड महामारी से निपटने के राज्य में योगी सरकार ने जगह जगह...

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक मिजोरम के पूर्व राज्यपाल समेत अन्य...

पिछले दिनों यूपी के कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा में चंदन गुप्ता की हत्या पर अब राजनीतिक माहौल गर्माने लगा है। संघ परिवार के संगठन- विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) और बजरंग दल ने कासंगज हिंसा को हिंदुओं के खिलाफ साजिश बताकर मृतक चंदन गुप्ता को दादरी के अखलाक मामले से जोड़ते हुए शहीद के दर्जे की मांग की है। संगठन के सदस्यों ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बुधवार को ज्ञापन भी|

Image result for chandan gupta

ज्ञापन में शहीद के दर्जे के साथ मुआवजे की रकम में बढ़ोतरी की मांग भी शामिल है। ज्ञापन में कहा गया है कि भारत में ‘हिंदुओं को शांत कराने के लिए’ एक साजिश रची गई थी। वहीं पूर्व समाजवादी पार्टी की सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने अखलाक के परिवार को मुआवजा में बड़ी रकम दी थी इसलिए उन्होंने चंदन के परिवार को मुआवजे की राशि की रकम 20 लाख से बढ़ाकर 50 लाख रुपये करने की मांग की है।

बतौर ज्ञापन, ‘समाज का बुद्धिजीवी वर्ग अब सच नहीं बोलेगा कि देश में वातावरण को बिगड़ने और हिंदू आवाजों को शांत करने के लिए एक भयावह साजिश रची गई है। विपत्ति जब छोटी हो उसे कुचल देना हितकारी होता है।’

यहाँ भी पढ़े – आम बजट ऐतिहासिक, सभी वर्गों का होगा सशक्तिकरणः सीएम योगी

बता दें कि 2015 में ग्रेटर नोएडा में स्थित दादरी में मोहम्मद अखलाक सैफी की बीफ खाने के शक में भीड़ द्वारा हत्या कर दी गई थी। उस वक्त की एसपी सरकार ने अखलाक के परिवार को 20 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया था लेकिन बाद में मुआवजे की राशि बढ़ाकर 30 लाख रुपये कर दी थी। अखलाक के तीन भाइयों को 5-5 लाख रुपये दिए गए। इसके अलावा नोएडा में दो बेडरूम वाले चार फ्लैट, जो कि किसी भी सरकारी योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं, को मुख्यमंत्री के विवेकाधीन फंड से अखलाक के परिवार को दिया गया था।

ज्ञापन में कहा गया है, ‘पूर्व की सरकारों ने अखलाक को शहीद का दर्जा दिया। उस मानक से देखा जाए तो चंदन गुप्ता एक देशभक्त सेवक था। यह जरूरी है कि चंदन गुप्ता की मौत पर उसे शहीद का दर्जा मिले। उसके परिवार के सदस्यों को सरकारी नौकरी के साथ सुरक्षा भी मुहैया कराई जाए। साथ ही मृतक के परिजनों को मिलने वाली मुआवजों की राशि 20 लाख से 50 लाख रुपये की जाए।’

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

लखनऊ-ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण

ACM 7, शैलेन्द्र कुमार ने किया वैक्सीनशन कैम्प का निरीक्षण- विवेक शर्मा-स्टार न्यूज़ भारत लखनऊ - कोरोना महामारी से जहां एक...

लखनऊ- बी के टी लेसा उप खण्ड कार्यालय पर हुआ कोविड-19 टीकाकरण-399 लोगो को लगा निःशुल्क टीका

कोविड-19  टीकाकरण शिविर उपखण्ड लेसा कार्यालय में सम्पन्न     लखनऊ।कोविड महामारी से निपटने के राज्य में योगी सरकार ने जगह जगह वैक्सिनेसन का कार्य सुचारू रूप...

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक

लखनऊ में हुई नन्दी सेवा संस्थान के प्रथम मार्गदर्शक एवं सलाहकार समिति की बैठक मिजोरम के पूर्व राज्यपाल समेत अन्य विशेष अतिथियों का मंत्री नन्दी...

लखनऊ- कुर्सी रोड स्थित सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के डीवी सिंह अध्यक्ष व विवेक शर्मा बने सचिव

लखनऊ- कुर्सी रोड स्थित सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के डीवी सिंह अध्यक्ष व विवेक शर्मा बने सचिव लखनऊ। सृष्टि अपार्टमेंट रेजिडेंट एसोसिएशन के रविवार...

सपा सांसद आज़म खान व बेटे अब्दुल्ला आज़म को आज भेजा जाएगा सीतापुर जेल

लखनऊ सपा सांसद आज़म खान व बेटे अब्दुल्ला आज़म को आज भेजा जाएगा सीतापुर जेल* सीतापुर जेल से मेदान्ता हॉस्पिटल लख़नऊ गाड़ियां रवाना- 9 मई को दोनों...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -