Friday, March 5, 2021

फरीदाबाद..86 मिनट में चार हत्याएं खौफनाक था अंदर का मंजर, देखकर दहल गए लोग

Must Read

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख...

फरीदाबाद के सेक्टर-सात ए में रेडियोलॉजिस्ट व उनकी पत्नी समेत बेटी व दामाद की निर्मम तरीके से चाकू से गोदकर व गला रेतकर हत्या कर दी गई। वारदात शुक्रवार रात की है, मगर इसका पता शनिवार दोपहर चला। सुबह से डॉक्टर व उनके परिजनों में से किसी का नजर न आना, कुत्ते का लगातार भौंकना और तेज आवाज में चल रहे टीवी के कारण पड़ोसियों को शक हुआ। पड़ोसियों की सूचना पर ही शनिवार दोपहर करीब ढाई बजे पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि घर में खून से लथपथ चार लाशें पड़ी हैं। पुलिस का कहना है कि घटनास्थल के हालात देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि हत्यारे का मकसद लूट नहीं सिर्फ हत्याएं करना था। सेक्टर-7ए के मकान नंबर-19 निवासी डॉ. प्रवीण मेहंदीरत्ता (65 वर्ष) रेडियोलॉजिस्ट थे। उन्होंने अपने घर के बेसमेंट में ही एक्स-रे मशीन लगा रखी थी, जबकि उनकी पत्नी भारती उर्फ सुदेश मेहंदीरत्ता (58 वर्ष) एक निजी स्कूल में अध्यापिका थीं, जोकि हाल ही में सेवानिवृत्त हुई थीं। डॉ. मेहंदीरत्ता की बेटी प्रियंका (32 वर्ष) की पांच साल पहले मेरठ निवासी सौरभ कटारिया (35 वर्ष) से शादी हुई थी। प्रियंका नोएडा स्थित एचसीएल कंपनी में नौकरी करती थी, जबकि सौरभ गुरुग्राम स्थित एक निजी कंपनी में कार्यरत था। ऐसे में दोनों यहां वैशाली, गाजियाबाद में रहते थे। डॉ. मेहंदीरत्ता का एक बेटा दर्पण (27 साल) भी है जोकि गुरुग्राम की ही एक निजी कंपनी में काम करता है। बेटे की ज्यादातर नाइट शिफ्ट रहती थी। ऐसे में शुक्रवार को वह भी रात करीब साढ़े 9 बजे अपनी ड्यूटी पर चला गया था। परिजनों के अनुसार, अक्सर सप्ताह अंत में बेटी और दामाद फरीदाबाद आ जाते थे और रविवार शाम को लौटते थे। सेक्टर-7ए में हुए चौहरे हत्याकांड में पुलिस को स्कूटी वाले व्यक्ति की तलाश है, जो रात में 10.30 बजे डॉ. प्रवीण के घर में दाखिल हुआ और 11.56 मिनट पर घर से निकल गया। इन 86 मिनट में उसने दो परिवारों को उजाड़ दिया। फोरेंसिक टीम को पूरे घर में एक अज्ञात व्यक्ति के पैरों के निशान मिले हैं। माना जा रहा है कि यह हत्यारोपी के पैरों के निशान हैं। पुलिस उस आधार पर मामले की जांच में जुटी है। सेक्टर-सात ए निवासी डॉ. प्रवीण मेहंदीरत्ता के पड़ोसी प्रो. सुनील गर्ग के घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज पुलिस ने देखी तो उसमें रात करीब 10.30 बजे स्कूटी पर एक व्यक्ति आता दिख रहा है। उसने डॉ. मेहंदीरत्ता के घर के बाहर स्कूटी खड़ी की और अंदर दाखिल हो गया। रात करीब 11.30 बजे डॉ. मेहंदीरत्ता की बेटी प्रियंका और दामाद सौरभ वहां पहुंचते हैं। सौरभ घर के गेट पर अपनी कार खड़ी करता है और फिर दोनों पति-पत्नी घर में दाखिल होते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसके 16 मिनट पर 11.56 मिनट पर वह स्कूटी वाला वहां से वापस चला जाता है। इन 86 मिनटों के दौरान उसने घर में मौजूद चारों व्यक्ति का कत्ल कर दिया और फरार हो गया। पुलिस का मानना है कि हत्यारा कोई जानकार है। वीण मेहंदीरत्ता की पत्नी भारती की भाभी दिव्या ने बताया कि घर के अंदर का मंजर बहुत खौफनाक मंजर था। घर के ड्राइंग रूम में प्रियंका और सौरभ के शव पड़े थे, जबकि भारती का शव बेडरूम में बिस्तर के साथ जमीन पर पड़ा था। डॉ. प्रवीण मेहंदीरत्ता का शव बेसमेंट स्थित उनकी एक्सरे मशीन पर पड़ा मिला। पड़ोसियों के अनुसार नीचे बेसमेंट की लाइट, एक्सरे मशीन और कंप्यूटर चालू था।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा नहीं बल्कि सेवा और समर्पण...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख को हो रहा आयोजन - तीन...

लखनऊ में यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ

  *यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ* आज दिनांक 15 -02-2021 से सदर कैंट स्थित यातायात पुलिस लाइन मैं यातायात व्यवस्था...

अंडरगारमेंट्स में छुपा कर ला रहे यात्री से 1 करोड़ के ऊपर का सोना पकड़ा गया-लखनऊ एयरपोर्ट का मामला

लखनऊ एयरपोर्ट पर कस्टम को बड़ी सफलता मिली है। दुबई से लखनऊ पहुंचे चार यात्रियों के पास 3 किलो ग्राम सोना मिला है। विमान...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -