Friday, March 5, 2021

बीजेपी सांसद विजय गोयल को नियम तोड़ना पड़ा भारी,पुलिस ने काटा 4000 का चालान

Must Read

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख...

नई दिल्ली: 

दिल्ली में बढ़े प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने सोमवार से ऑड-ईवन नियम लागू कर दिया है. आप सरकार के इस फैसले का BJP शुरू से ही विरोध कर रही है. यही वजह है कि BJP सांसद विजय गोयल ने ऑड-ईवन के विरोध में ऑड नंबर की गाड़ी लेकर घर से निकले थे. पुलिस ने उनके आवास से महज 100 मीटर दूर ही उन्हें रोका और उनका चार हजार रुपये का चालान काटा. बाद में विजय गोयल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ऑड-ईवन से कुछ नहीं होने वाला है, यह महज एक राजनीतिक स्टंट बनकर रह गया है. विजय गोयल का चालान होने की बात सामने आने के बाद आप सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत विजय गोयल के घर पहुंचे और उन्होंने उन्हें गुलाब भेंट करते हुए आग्रह किया कि वह प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार के इस योजना का समर्थन करें और इसके नियमों का पालन भी करें. इस दौरान विजय गोयल और कैलाश गहलोत के बीच इस योजना को लेकर बहस भी हुई. विजय गोयल ने कहा कि आपको इस योजना को शुरू करने से पहले एक बार दिल्ली के सभी पांचों सांसदों से मिलना चाहिए था. मेरी बस आपसे इतनी सी शिकायत है कि ‘आप’ सरकार बीते पांच साल से कुछ नहीं कर रही है. अगर आपको लगता है कि दिल्ली में प्रदूषण पंजाब-हरियाणा में पराली जलाने की वजह से ही हो रहा है तो फिर ऑड-ईवन इसे कम करने में कैसे मददगार साबित होगा. इसके जवाब में कैलाश गहलोत ने कहा कि अगर हम सड़क पर से 50 फीसदी गाड़ियों को हटा लें तो हम खुद महसूस करेंगे की प्रदूषण पहले से कम हुआ है.

दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के लोग, अब एक्यूआई देखकर घर से निकलने का कार्यक्रम बनाएं. एक्यूआई खतरे के निशान के ऊपर होने पर, घर से निकलने से बचें. धूप निकलने पर ही घर से बाहर जाएं. बच्चे, बुजुर्ग, मरीज और गर्भवती महिलाएं इन हिदायतों का सख्ती से पालन करें. कम से कम आपात स्थिति के दौर में सुबह की सैर से बचना मुनासिब होगा. खिलाड़ियों को भी मैदान से इन दिनों दूरी बनाना बेहतर होगा. ऐसे में जॉगिंग और दौड़-धूप, अस्थमा, दिल और दिमाग के दौरे का कारण बन सकती है.

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित

उत्तर प्रदेश विधान सभा द्वारा रूपये 5,85,910,42,77,000 की धनराशि के लिए विनियोग विधेयक, 2021 पारित उत्तर प्रदेश के वित्त, चिकित्सा...

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी

नर्सिंग का काम किसी डॉक्टर से कम नही-नर्सिंग सेवा तथा समर्पण का प्रतीक- डॉ शीला तिवारी   नर्सिंग सिर्फ एक पेशा नहीं बल्कि सेवा और समर्पण...

-रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल

  -रंग ला रही खुशहाल परिवार दिवस की पहल - नवम्बर से नई पहल के तहत हर माह की 21 तारीख को हो रहा आयोजन - तीन...

लखनऊ में यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ

  *यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए सात दिवसीय कैप्सूल कोर्स प्रारंभ* आज दिनांक 15 -02-2021 से सदर कैंट स्थित यातायात पुलिस लाइन मैं यातायात व्यवस्था...

अंडरगारमेंट्स में छुपा कर ला रहे यात्री से 1 करोड़ के ऊपर का सोना पकड़ा गया-लखनऊ एयरपोर्ट का मामला

लखनऊ एयरपोर्ट पर कस्टम को बड़ी सफलता मिली है। दुबई से लखनऊ पहुंचे चार यात्रियों के पास 3 किलो ग्राम सोना मिला है। विमान...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -