Thursday, May 13, 2021

जब पुरुष को महिला सताए तो बेचारा निर्दोष पुरुष आखिर कहाँ जाए?

Must Read

विधायक डॉ नीरज बोरा ने 9 ट्रैक्टर टैंकर सेनेटाइजेसन के लिए किया रवाना

क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में जुटे भाजपा विधायक डा0 नीरज बोरा लखनऊ, 7 मई। भाजपा विधायक डॉक्टर नीरज बोरा...

घर घर होगा सेनेटाइजेसन मिलेगी मेडिसिन किट- विधायक नीरज बोरा ने की सराहनीय पहल

विधायक नीरज बोरा ने पाजिटिव तक पहुचाया कोरोना दवा किट-साथ ही सेनेटाइजेसन के लिए कसी लखनऊ, 2 मई। उत्तर प्रदेश...

CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी

-CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी रेमेडेसिवर आदि दवाओं की कालाबाज़ारी करने वालों पर गैंगस्टर, NSA लगाया...

गौरव बाजपेयी———

किसी भी प्रकार के आयोग का निर्माण किसी कमजोर समुदाय के हितों की रक्षा के लिए किया जाता है. वैसे हित जो सदियों से उपेक्षित रहे हैं, कभी यह कहा जाता था कि नारी कमजोर है नारी शक्ति को सशक्त करने के लिए ही नारी न्याय देने के लिए काफी सारे कानूनो,आयोगों की सौगात दे दी गयी ताकि नारीयो को किसी भी प्रकार की प्रताड़ना झेलने को न मिले औऱ जिस पर मौलिकता के आधार पर भी सही था परंतु समय के बढ़ते चक्र में उसी कानून का बहुत तेज़ी से गलत इस्तेमाल किया जाने लगा है,जहाँ सही 1 और गलत केस की संख्या बहुत अधिक हैं यहाँ पर मैं समाजिकता के परिवेश की बात करु तो एक प्रश्न आपसे क्या सिर्फ एक पक्ष को ही वरीयता देना क्या लाजमी हैं? यदि महिला झूठी व गलत साबित हो जाए तो समान रूप से जो दंड पुरुष को मिलना चाहिए उसको भी मिले? क्या नारी को भी समान दंड नही मिलना चाहिए?आज आप हर एक दूसरे घर मे देख सकते हो?

यदि देखा जाए तो यहाँ पर हम पुरुष या महिला की बात नही कर रहे बल्कि ये कहने की कोशिश कर रहे हैं पुरुष व उसका पूरा परिवार सही होते हुए भी यातनाये झेलता है घुटन भरी ज़िन्दगी जीने को मजबूर हैं,जब कि आजकल की महिलाएं गलत तरीके से कानून का इस्तेमाल करते हुए युवाओ पुरुषों की ज़िंदगी बद से बत्तर बनाती जा रही है।जिसके सिर्फ एक ही नही बल्कि पूरे परिवार को सामाजिक प्रताड़ना के साथ साथ कानूनी प्रताड़नाओ का भी सामना करना पड़ता हैं।ऐसे में आप कितने भी केस देख लो अंत मे गलत 99%महिला ही दोषी निकलती हैं तो क्या उनको भी समान दंड मिलता देखा हो किसी ने तो बताये?जिसके परिवार वाले ही उसको समझाने की जगह पैसो की चाहत रखते हुए परेशान करते हैं व अपना दबाव बनाते हैं कि पैसा नही मिला तो झूठे मुकदमे में घर भर को फसा देंगे तो ऐसी स्थिति में बेचारा पुरुष कहा न्याय खोजे या किस आयोग में जाये ?क्यों कि उसका सामाजिक प्रतिष्ठा,कैरियर, नॉकरी,परिवार सभी कुछ उसको बर्बाद होता दिखाई देता।ऐसे मामले भी आए हैं जिनमें बदले की भावना से लोगों को दहेज प्रताड़ना में फंसाया गया है. पर ये सिर्फ पुरुषों के खिलाफ ही नहीं होते हैं, ये स्त्रियों के खिलाफ भी होते हैं. ऐसे मामलों में पुलिस जांच को ज्यादा प्रभावी बनाने की जरूरत है.।

उदाहरण तो ऐसे हैं जिसमे पुरुषों ने आत्महत्या तक कर ली ऐसी स्थित में आखिर पुरुष की कौन सुने ?

1-क्या पुरुष या महिला दोनों को समान अधिकार प्राप्त नही होने चाहिए?

2-महिला को दोषी पाने पर समान अधिकार के तहत महिला को भी दोषी मानते हुए सज़ा का प्राविधान नही होना चाहिए क्या?

3-महिला आयोग की ही तरह से पुरुषों की तकलीफ व प्रताड़नाओं के लिए पुरुष आयोग का गठन नही होना चाहिए?
आप हमारे स्टार न्यूज की इन बातो से सहमत हो तो कमेंट अवश्य करे और हमारी स्टार न्यूज भारत डॉट कॉम की इस मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए शेयर अवश्य करे ताकि निर्दोष को भी न्याय मिल सके।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

विधायक डॉ नीरज बोरा ने 9 ट्रैक्टर टैंकर सेनेटाइजेसन के लिए किया रवाना

क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में जुटे भाजपा विधायक डा0 नीरज बोरा लखनऊ, 7 मई। भाजपा विधायक डॉक्टर नीरज बोरा...

घर घर होगा सेनेटाइजेसन मिलेगी मेडिसिन किट- विधायक नीरज बोरा ने की सराहनीय पहल

विधायक नीरज बोरा ने पाजिटिव तक पहुचाया कोरोना दवा किट-साथ ही सेनेटाइजेसन के लिए कसी लखनऊ, 2 मई। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की...

CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी

-CM योगी- टीम-11 बैठक में 11 सख्त आदेश जारी रेमेडेसिवर आदि दवाओं की कालाबाज़ारी करने वालों पर गैंगस्टर, NSA लगाया जाये-CM रेमेडेसिवर सहित अन्य दवाओं की...

चुनाव ड्यूटी में जवानों से भरी बस खाई में उतरी-सभी सुरक्षित

लखनऊ त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव ड्यूटी में जा रही पुलिस जवानों से भरी बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गयी बस में बैठे जवानों को आई मामूली...

विधायक नीरज बोरा ने कोरोना काल मे उपचार हेतु दी 1 करोड़ रुपये की निधि

विधायक नीरज बोरा ने आपदा काल मे उपचार हेतु दी 1 करोड़ रुपये की निधि आपदा काल मे एक और लोकप्रिय विधायक डॉ नीरज बोरा...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -